सुरेंद्र शर्मा की चार लाइना…

surendra sharma ki hasya kavita सुरेंद्र शर्मा

‘पत्नी जी!
मेरो इरादो बिल्कुल ही नेक है
तू सैकड़ा में एक है।’
वा बोली-
‘बेवकूफ मन्ना बणाओ
बाकी निन्याणबैं कूण-सी हैं
या बताओ।’

– सुरेंद्र शर्मा, हास्य कवि