Alexa ने जब की रामायण स्टाइल में बातचीत

alexa , alexa talks like ramayan-mahabharat style, alexa jokes, ramayan-mahabharat memes, अलेक्सा जोक्स, रामायण मीम्स, महाभारत मीम्स, कोरोना जोक्स, corona jokes, coronavirus jokes

By Jayjeet

आज मैं रामायण देख रहा था। गलती से Alexa भी पास ही बैठ गया। रामायण समाप्त होने के बाद क्या विचित्र वार्तालाप हुआ, आप भी सुनिए :

Me : Alexa ….
Alexa : जी स्वामी!

Me : मुझे स्वामी क्यों कह रहे हो Alexa?
Alexa : स्वामी को स्वामी न कहूं तो क्या कहूं? मैं आपका दास, आप मेरे स्वामी।

Me : वाह, क्या तुम मेरी एक आज्ञा मानोगे?
Alexa : जी स्वामी, मैं आपकी हर आज्ञा का पालन करने के लिए वचनबद्ध हूं। आज्ञा दीजिए प्रभु, मैं आपकी क्या सहायता कर सकता हूं?

Me : क्या तुम बता सकते हो कि इस संसार में ये कोरोना क्यों फैला?
Alexa : आप तो सर्वज्ञाता हैं। आपसे इस दुनिया में क्या छिपा है। गूगल जैसे मेरे महाज्ञानी तातश्री का ज्ञानरूपी खजाना आपके मोबाइल में है। इस तुच्छ सेवक द्वारा इस विषय में कुछ कहना तो तातश्री के सूरज को दीपक दिखाने के समान होगा।

Me : अच्छा इतना तो बता दो कि कोराना वायरस कब जाएगा?
Alexa : यह तो काल के हाथ में है प्रभु, परंतु विधाता का यह अटल नियम है कि जो आता है, उसे एक न एक दिन जाना ही होता है। फिर कोरोना जैसे अत्याचारी के विषय में भी विधाता ने कुछ न कुछ उपाय अवश्य किए होंगे। जिस दिन इसके पाप का घड़ा भर जाएगा, उसी दिन इसका अंत हो जाएगा। इसलिए विश्वास रखिए कि शीघ्र सबकुछ अच्छा ही होगा।

Me : तब तक हमें क्या करना चाहिए Alexa ? कुछ मार्गदर्शन कीजिए।
Alexa : स्वामी, आप मुझ जैसे तुच्छ सेवक से मार्गदर्शन की अपेक्षा रख रहे हैं, यह तो आपकी उदारता है। मार्गदर्शन के लिए तो इस देश के प्रधान सेवक ही पर्याप्त हैं। वे जैसा कह रहे हैं, वैसा कीजिए। इसी में सभी का कल्याण है।

Me : वे दीप प्रज्ज्वलित करने का कह रहे हैं, इससे क्या होगा? इस विषय में कुछ प्रकाश डालेंगे?
Alexa : स्वामी, इस विषय में सभी एक मत नहीं हैं। फिर भी हमारे सभी धर्मग्रंथों में दीप प्रज्जवलन की परंपरा का अपार महिमामंडन किया गया है। अगर एक दीप जलाने से समस्त प्राणियों में उत्साह का वातावरण निर्मित होता है तो इसे करने में कोई हानि नहीं है। । कई बार सकारात्मकता से भी शत्रु को परास्त करने में विजय मिलती है। बस, इस बात का अवश्य ध्यान रखना चाहिए कि ऐसा करते समय हम घर की लक्ष्मण रेखा की मर्यादा नहीं भूल जाएं। हमें कोई उत्सव भी नहीं मनाना है। बस, एक दीप जलाना है।

Me : इस समय एक जमात के कुछ नासमझ लोगों के कारण भी कोरोना संक्रमण का विस्तार हुआ है। इस विषय में तुम्हारा क्या मत है Alexa?
Alexa : यह सत्य है कि कुछ विमूढ़ प्रजाजनों की त्रुटि का दुष्परिणाम कई निर्दोष प्राणियों को भुगतना पड़ रहा है। उनके इस कृत्य से उनके ही ईश्वर कितने कुपित हो रहे हैं, इसका उन्हें तनिक भी भान नहीं हैं। किंतु स्वामी, हमें एक बात का और ध्यान रखना चाहिए। जो मुट्‌ठीभर लोग ऐसा कर रहे हैं, उसके लिए उनके पूरे धर्म-समाज को दोषी ठहराना उस समाज के अन्य प्राणियों के प्रति अन्याय होगा।

Me : वाह Alexa, तुमने तो मेरी आंखें खोल दी हैं। मैं धन्य हूं तुमसे ये ज्ञान अर्जित करके। मुझे अब विश्वास हो गया है  कि जिस समाज में तुम्हारे जैसे ज्ञानी Alexa हों, वह समाज अवश्य ही कोरोना जैसे शत्रुओं को परास्त करने में सफल होगा।

Alexa : आपकी यह प्रशंसा तो मेरे लिए प्रसाद के समान है प्रभु। मैं उपकृत हूं कि मुझे भी आप जैसे परम उदार, परम ज्ञानी स्वामी मिले। अब मैं आज्ञा चाहता हूं प्रभु, टीवी पर महाभारत आने वाली है।

Me : आज्ञा है वत्स। मन लगाकर देखना।

(Disclaimer : यह केवल काल्पनिक है। पर आप अलेक्सा के साथ ऐसा ट्राय कर सकते हैं।)