शाहजी ने न्यूज एंकर्स से यह क्यों कहा? बच्चों से सीखो जरा…

amit-shah , amit shah jokes, news anchors jokes, political satire, अमित शाह जोक्स, राजनीतिक व्यंग्य कटाक्ष, न्यूज एंकर्स पर जोक्स
न्यूज एंकर्स को समझाइश देते शाह जी।

By Jayjeet

हिंदी सटायर डेस्क, नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी द्वारा ‘परीक्षा पे चर्चा’ के तुरंत बाद शाहजी ने सभी गैर एनडीटीवी न्यूज एंकर्स की एक आपातकालीन मीटिंग बुलाई। इस मीटिंग में उन्होंने एंकर्स को संबोधित करते हुए कहा, देखा बच्चे कैसे सधे हुए सवाल पूछ रहे थे। एक इंच भी इधर से उधर नहीं हुए। और इधर तुम हो कि %#$#&&

इस पर एक मुंहलगे एंकर ने थोड़ी हिम्मत दिखाते हुए कहा, ‘शाह जी, हम भी तो आपसे या साब से वही पूछते हैं, जो आप लोग हमको देते हों। अब इसमें हमें बच्चों से नीचा क्यों दिखाया जा रहा है?’

शाह जी बोले, ‘हां, पर कभी-कभी तुम स्सालों बुद्धिजीवी बनने के चक्कर में एक-आध सवाल दाएं-बाएं कर देते हो। इससे हमारी सारी की सारी तैयारी धरी की धरी रह जाती है।’

इतने में शाहजी की नजर बार-बार हाथ उठा रहे एक एंकर पर पड़ी। वह बार-बार बोले जा रहा था- आई वांट टू नो…आई वांट टू नो…

शाहजी ने उसे हड़काते हुए कहा, तुम तो बोलो ही मत। एक तो भारत की आधी पब्लिक को अपने स्टूडियो में बिठा लेते हो पर बोलने एक को न देते हो। खुद ही तुम नेशन वांट्स टू नो, नेशन वांट्स नो चिल्लाते रहते हो। अपने विरोधियों को न बोलने दो अच्छी बात है, पर अपने वालों को भी न बोलने देते हो। ऐसा कैसा चलेगा भाई? चार साल बाकी है..

इसके बाद क्या हुआ? खबर लाने वाला यह संवाददाता वहां पकड़ में आ गया और उसे वहां से दुत्कार कर भगा दिया गया… सो इतना ही पढ़ लो और समझ लो आगे का हाल…

(Disclaimer : यह खबर कपोल कल्पित है। इसका मकसद केवल कटाक्ष करना है, किसी की मानहानि करना नहीं।)