बार-बार पलटी मार रहे मौसम का बड़ा ऐलान – हम भी करेंगे नेतागीरी

mousam , badalta mousam , badalta mousam, mousam per jokes, बदल रहा है मौसम, मौसम पर जोक्स, ठंडी गर्मी पर जोक्स, भारत का मौसम
नेतागीरी के लिए तैयार मौसम (दाएं)।

By Jayjeet

हिंदी सटायर डेस्क। एक बड़े घटनाक्रम के तहत मौसम ने भी राजनीति के मैदान में उतरने का ऐलान कर दिया है। पिछले कुछ समय से जिस तरह मौसम बार-बार पलटी मार रहा था, उसको देखते हुए कुछ विशेषज्ञों ने पहले ही इसकी आशंका जाहिर कर दी थी।

मौसम से खार गए लेकिन उनके काफी करीबी सूत्र ने नाम न छापने की शर्त पर हिंदी सटायर को बताया, “पिछले कुछ दिनों में मौसम ने जितनी तेजी से पलटियां मारी हैं, उससे अब उन्हें भी नेतागीरी करने का शौक चर्रा गया है। उन्हें मुगालते हो गए हैं कि वे भी राजनीति कर सकते हैं। इसलिए उन्होंने इस साल के अंत में बिहार में होने वाले चुनावों में कूदने तक का ऐलान कर दिया है।“ वे किस पार्टी से चुनाव लड़ेंगे, इस पर सूत्र ने कहा, “अब हवा का रुख किस पार्टी की तरफ है, इसे देखने और समझने के बाद ही वे तय करेंगे कि किसी पार्टी से चुनाव लड़ना है या अपनी खुद की पार्टी बनानी है। वैसे उनकी केजरीवालजी के साथ चर्चा चल रही है।”

इस बारे में हमने मौसम से बात कर यह जानने की कोशिश की कि आखिर उन्हें नेतागिरी करने की जरूरत क्यों पड़ गई। इस पर उन्होंने कहा, “हमारे भांति-भांति के नेता भी तो हवा के रुख के अनुसार बदलते रहते हैं। मैं भी यही कर रहा हूं तो भला मैं राजनीति में क्यों न उतरुं?”

इस बीच तेजी से बदलते हालात में साइबेरियाई पक्षी कम्युनिटी ने भारत गए हुए अपनी बिरादरी के लोगों को अलर्ट जारी कर कहा है कि अब वे भारतीय मौसम पर भरोसा न करें। वह नेता बन गया है। सब अपने-अपने हिसाब से घर लौट आएं।

(Disclaimer : यह खबर कपोल-कल्पित है। इसका मकसद केवल स्वस्थ मनोरंजन करना है।)

यह भी पढ़ें : 

मौसम विभाग की हर भविष्यवाणी इतनी सटीक कैसे निकल रही है?

Satire Video : भविष्यवाणी के लिए मौसम विभाग आजमाता है ये 3 देसी तरीके

—————————————————————————————————-

Google Translation (With Small Modification) 

The big announcement of the weather (mousam) – I will also do politics

Satire Desk. In a major development, the weather, ie mousam has also announced its entry into the political arena. Some experts had already expressed its apprehension in view of the way the weather was turning again and again for some time.

Disappointed with the weather, but a source close to him told the Hindi Satire, on the condition of anonymity, “With the rapid changes the weather has caused in the last few days, now he too has become fond of politicizing. He has been insinuated that he too can do politics. So he has announced to jump into the elections in Bihar later this year. “To which party he will contest, the source said,”Now to see and understand which party the wind is facing only after that he will decide whether to contest elections from any party or to form his own party. By the way, he is in discussion with Kejriwalji. “

We talked to the weather about this and tried to find out why he needed to be a leader. To this he said, “Our leaders of all kinds also keep changing according to the attitude of the wind. I am doing the same, so why should I not enter politics? “

Meanwhile, in a rapidly changing situation, the Siberian Birds Community has issued an alert to the birds of their fraternity who have gone to India, that they should no longer trust the Indian weather. He has become a leader. Everyone should return home according to their respective accounts.