इस वजह से चीन पूरे इंडिया पर ठोंक सकता है अपना दावा!

chinese food in india , china-india dispute, chinese product in india , satire, भारत में चाइनीज माल, चीन पर जोक्स, jokes on china, hindi jokes, हिंदी जोक्स, डोकलाम विवाद

बीजिंग/नई दिल्ली। चीन का एक बहुत ही खतरनाक गेम प्लान सामने आया है। अब तक केवल अरुणाचल प्रदेश पर ही अपना दावा ठोंकने वाला इस चीन इस बार पूरे भारत पर अपना दावा ठोंक सकता है।

सरकारी चीनी अखबार शिन्हुआ ने चीन के इस खतरनाक गेम प्लान के बारे में पूरी रपट छापी है। इस रपट के अनुसार चीन द्वारा छोड़े गए कुछ सैटेलाइट से जो आंकड़े मिले हैं, उनसे खुद चीनी अधिकारी सकते में आ गए हैं। इन सैटेलाइट्स से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार चीन में हर घर में जितना चाइनीज सामान नहीं होता, उससे ज्यादा चाइनीज सामान भारतीय घरों में पाया गया है। आंकड़ों के अनुसार भारत के हर घर में हर तीन में से दो चीजें चाइनीज पाई गई हैं।

अधिकारियों के लिए इससे भी ज्यादा चौंकाने वाला एक तथ्य एक और था। भारत के शहरों में हर 100 मीटर पर एक चाइनीज फूड का ठेला चिन्हित किया गया। चाइनीज फूड के इतने स्पॉट तो खुद चीन में नहीं है। रपट में एक चीनी अधिकारी ने शर्म से आधा गढ़ते हुए कहा, “ये हम चीनियों के लिए लज्जाजनक है कि हमसे ज्यादा चाइनीज माल और चाइनीज फूड की खपत भारत में हो रही है।” हालांकि चालाक अधिकारी ने यह भी जोड़ा, “भारत में चाइनीज सामान और चाइनीज फूड के प्रति दीवानगी से साफ है कि यह अतीत में कभी चाइना का हिस्सा रहा होगा। इसलिए हम यूएन में भारत को चीन का ही एक राज्य घोषित करने की मांग कर सकते हैं।”

गोभी मंचुरियन तो चखने दो :
इस पूरे मामले पर भारत की कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है, लेकिन विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने चुटकी लेते हुए कहा- “ठोंकने तो चीन को दावा। जब यूएन के अधिकारी भारत में चाइनीज फूड चखेंगे तो सब साफ हो जाएगा। गोभी मंचुरियन या सोयाबड़ी वाले नूडल्स खाते ही पता चल जाएगा कि चीन का दावा कितना खोखला है। भला चीन में गोभी मंचुरियन मिलती है?”

(Disclaimer : यह खबर कपोल-कल्पित है। इसका मकसद केवल स्वस्थ मनोरंजन और सिस्टम पर कटाक्ष करना है, किसी की मानहानि करना नहीं। )

यह भी पढ़ें…

चीन की नई धमकी, हमारी धमकियों को चाइनीज माल न समझें इंडिया