Exclusive : 9 माह में सिखाई जाएगी नेतागीरी, ऐसा होगा सिलेबस

course on netagiri, how to do politics, satire on politics, satire on leaders, jokes on politics, jokes on congress, jokes on rahul, नेतागीरी पर कोर्स, हिंदी जोक्स, hindi jokes

By Jayjeet

दिल्ली। दिल्ली की एक संस्था इंडियन स्कूल ऑफ डेमोक्रेसी ने नेतागीरी पर कोर्स शुरू करने की योजना बनाई है। यह नौ माह का कोर्स होगा। इसमें पार्टी लाइन से ऊपर उठकर सच्ची राजनीति सिखाई जाएगी। हालांकि इसके सिलेबस को लेकर खुलासा नहीं हो सका है, लेकिन सच्ची राजनीति सिखाने के लिए इसमें ये 9 पाठ अनिवार्य तौर पर रखे जाएंगे :

पाठ 1 : जुमलेबाजी
इसमें बड़े-बड़े जुमले बनाया सिखाया जाएगा। इसके लिए एक दिन के लिए मोदीजी को स्पेशल गेस्ट फेकल्टी के तौर पर बुलाया जा सकता है। वैसे बीच-बीच में प्रैक्टिकल नॉलेज के लिए सिद्धू पाजी उपलब्ध रहेंगे।

पाठ 2 : सोशल इंजीनियरिंग
जातियों को कैसे साधा जाएं, यह सिखाया जाएगा। इस पाठ के लिए गेस्ट फेकल्टी के तौर पर लालू, मुलायम और मायावती की स्पेशल क्लासेस लगवाई जाएंगी। लालू यादव को बुलाने के लिए कोर्ट से विशेष अनुमति मांगी जाएगी।

पाठ 3 : पैसों की उगाही
राजनीति के लिए ये सबसे जरूरी चीज है। इसमें यह बताया जाएगा कि कैसे छोटे-छोटे कार्यक्रमों के लिए बड़े-बड़े मुर्गे तलाशकर पैसे उगाहे जा सकते हैं।

पाठ 4 : धर्म का तड़का
राजनीति इसके बगैर अधूरी है। इसमें यह सिखाया जाएगा कि लोगों को धर्म के नाम पर कैसे पोलेराइज करना है। इसके लिए किन्हें बुलाया जाएगा, कोर्स संचालकों ने इसका उल्लेख करना जरूरी नहीं समझा।

पाठ 5 : बेचारापन
राजनीति में कई बार लोगों की सहानुभूति हासिल करने के लिए बेचारा दिखना भी जरूरी हो जाता है। इस पाठ को केजरीवाल के सहयोग से तैयार किया गया है। उन्होंने तीन-चार क्लासेस लेने पर भी सहमति जताई है।

पाठ 6 : ब्लैकमनी का इस्तेमाल
इसमें यह सिखाया जाएगा कि ब्लैकमनी चाहे आपकी हो या आपके किसी रिश्तेदार की, उसका राजनीति में कैसे समुचित इस्तेमाल किया जा सकता है।

पाठ 7 :  मुंहतोड़ गालियां
यह भी सच्ची राजनीति के लिए जरूरी गुण है। इस पर 30 कक्षाओं का पूरा-पूरा एक पाठ रखा गया है। ममता बैनर्जी और गिरिराज सिंह को बतौर गेस्ट फेकल्टी बुलवाया जाएगा।

पाठ 8 : धौंसपट्‌टी और प्रलोभन
चुनाव जीतने के लिए कैसे धौंसपट्‌टी और प्रलोभन दिए जा सकते हैं, यह सिखाया जाएगा। इस पाठ के लिए दलीय राजनीति से ऊपर उठकर सभी दलों के एक-एक नेता को गेस्ट फेकल्टी के तौर पर इनवाइट किया जाएगा।

पाठ 9 : राहुल बनने से कैसे बचें
यह सिलेबस का सबसे रोचक और जरूरी पाठ है जिसे अंत में पढ़ाया जाएगा। इसमें राहुल गांधी बनने से बचने की टिप्स दी जाएगी।

(Disclaimer : यह खबर कपोल-कल्पित है। इसका मकसद केवल स्वस्थ मनोरंजन और राजनीतिक कटाक्ष करना है, किसी की मानहानि करना नहीं।)