भाषा अधिकारी ने ऐसी हिंदी लिखी कि समझ में आ गई, सेवा से बर्खास्त

Hindi-Officer , hindi day, hindi week, भाषा अधिकारी, हिंदी भाषा, अधिकारी बर्खास्त, हिंदी दिवस, हिंदी जोक्स, hindi jokes, satire, हिंदी हास्य व्यंग्य

By Jayjeet

हिंदी सटायर डेस्क, नई दिल्ली। सरकार ने अपने एक भाषा अधिकारी को बर्खास्त कर दिया है। इस भाषा अधिकारी का केवल यह कसूर था कि उसने एक आइटम का अनुवाद करते समय ऐसी हिंदी लिख दी थी कि दिमाग पर थोड़ा जोर देने पर ही वह समझ में आ गई थी। हिंदी अधिकारियों और भाषा अधिकारियों को लज्जित करने वाले इस अक्षम्य अपराध को गंभीरता से लेते हुए उसे तुरंत नौकरी से हटाने के निर्देश दे दिए गए हैं।

इस संबंध में एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “इस अधिकारी ने समझ में आने वाली हिंदी लिखकर सर्विस रूल्स का उल्लंघन किया है। सर्विस रूल्स में भाषाधिकारियों, हिंदी अधिकारियों और अनुवादकों के लिए हिंदी लिखने को लेकर काफी सख्त नियम हैं। नियमानुसार हर अधिकारी से ऐसा हिंदी लेखन अपेक्षित है जिसे इंसान तो क्या, भगवान भी नहीं समझ सकें। लेकिन इस अधिकारी ने समझ योग्य हिंदी लिखकर भारी लापरवाही बरती है।”

वरिष्ठ अधिकारी ने यह कहते हुए इस हिंदी अफसर का नाम बताने से इनकार कर दिया कि उसे उसका नाम लेने में भी शर्म महसूस हो रही है। उसने इस बात पर भी अफसोस जताया कि इस अफसर ने समझ मेें आने वाली हिंदी लिखते समय अन्य हिंदी अधिकारियों और भाषा अधिकारियों के बारे में एक बार भी नहीं सोचा कि इससे उनकी प्रतिष्ठा को कितना नुकसान पहुंचेगा।

क्या लिखा था उस हिंदी अफसर ने?

इस हिंदी अधिकारी ने ऐसा क्या लिख दिया था, जिससे उसे नौकरी से हाथ धोना पड़ा। पड़ताल करने के बाद हमें उसके द्वारा लिखित दो-चार पंक्तियां मिल गईं। आप भी पढ़िए :

“नीतियों और कार्यक्रमों को एक विश्व स्तरीय दूरसंचार बुनियादी ढांचे बनाने के क्रम में आईटी आधारीत क्षेत्र और अर्थव्यवस्था के आधुनिकीकरण के कम से कम लागत के आधार पर की जरूरत आवश्यकताओं को पूरा करने की बूनियादी लक्ष्य द्वारा निर्देशित कर रहे हैं।”

(वरिष्ठ अधिकारियों ने इन तीन लाइनों की जांच के बाद पाया कि इसकी भाषा हिंदी की मान्य जटिलताओं पर खरी नहीं उतरती है। साथ ही दोषी अफसर ने कई जगहों पर सही वर्तनी का इस्तेमाल किया जो हिंदी सेवा शर्तों का खुला उल्लंघन है।)

पढ़िए बर्खास्त करने का आदेश :

इस अधिकारी को सेवा से बर्खास्त करने के आदेश की कॉपी भी हमें मिली है। आदेश की हूबहू कॉपी और उसका भावार्थ आप भी पढ़िए :

“आपके हिन्दी की ओर लापरवाही के कारण आप एक अधिकारी के रूप में जारी रखने के लिए सभी अधिकार खो चुके हैं। आपने अपनी स्पष्ट भाषा से अतिरिक्त सभी हिंदी अधिकारी को शर्मिन्दा किया। इस प्रकार, हम आपको एक हिंदी अधिकारी के रूप में नौकरी से समाप्त कर देंगे।”

(इसका भावार्थ यह है : हिंदी के प्रति लापरवाही बरतने के कारण आपने हिंदी अधिकारी के तौर पर सेवा में रहने का अधिकार खो दिया है। आपने स्पष्ट हिंदी लिखकर अन्य सभी हिंदी अधिकारियों को शर्मिंदा किया है। इस आधार पर हम हिंदी अधिकारी के रूप में आपकी सेवाएं समाप्त कर रहे हैं।)

(Disclaimer : यह खबर कपोल-कल्पित और हास्य व्यंग्य के रूप में है। इसका मकसद केवल स्वस्थ मनोरंजन और सिस्टम पर कटाक्ष करना है, किसी की मानहानि करना नहीं।)

कैसी होती है सरकारी हिंदी, आप भी पढ़िए…

इंग्लिश कसम, आपने आज तक ऐसी हिंदी नहीं पढ़ी होगी!