माल्या और नीरव मोदी भागे तो भागे, जकरबर्ग को भागने नहीं देंगे : सरकार

mark-zuckerberg , FB controversy, मार्क जकरबर्ग, एफबी विवाद, फेसबुक विवाद, क्या है फेसबुक विवाद, विजय माल्या, नीरव मोदी

हिंदी सटायर डेस्क। विजय माल्या और नीरव मोदी के देश से भागने से भारत सरकार की काफी किरकिरी हुई थी। लेकिन अब सरकार फेसबुक सीईओ मार्क जकरबर्ग के मामले में ऐसी किरकिरी नहीं चाहती। इसलिए इस मामले में सरकार फूंक-फूंककर कदम रख रही है।

सरकार के एक सूत्र ने बताया, “डेटा चोरी के आरोपों में घिरे फेसबुक सीईओ मार्क जुकरबर्ग को लेकर सरकार ने पूरी तैयारी कर ली है। अगर भारतीय कानून के अनुसार जकरबर्ग दोषी पाए जाते हैं तो सरकार उन्हें भारत लाने के बाद इतने पुख्ता कदम उठाएंगी कि वे विदेश नहीं भाग पाएं, जैसे कि माल्या और नीरव मोदी भाग गए थे।”

सरकार इसके लिए क्या करेगी, इस बारे में सूत्र ने बताया, मार्क जकरबर्ग के भारत लाते ही हम सबसे पहले तो उनसे अपना पासपोर्ट जमा करने का रिक्वेस्ट करेंगे। एक बार हमारे पास पासपोर्ट आ गया तो फिर देखते हैं वे कैसे भागते हैं? माल्या और नीरव मोदी की कसर भी जुकरबर्ग से ही पूरी कर लेंगे।

लेकिन वे तो ऑरलेडी इंडिया से बाहर हैं? इस सवाल के जवाब में सूत्र ने बताया, “जकरबर्ग बहुत दिनों से उन लड़कों की तलाश में हैं जो लड़कियों की सुंदर-सुंदर तस्वीरें लगाकर दूसरे सीधे-साधे पुरुषों को बेवकूफ बनाते हैं। हम जब बताएंगे कि हमने इंडिया में ऐसे लड़कों की पहचान कर ली है तो वे इनसे मिलने भागे-भागे आएंगे।”

(Disclaimer : यह खबर कपोल कल्पित है। इसका मकसद केवल हास्य-व्यंग्य करना है, किसी की मानहानि करना नहीं।)