Breaking News :  कांग्रेस को मिलेगा ‘विशेष पार्टी का दर्जा’, सरकार लाएगी कानून

congress , congress jokes, article 370 congress, कांग्रेस पर जोक्स, मोदी सरकार पर जोक्स, धारा 370 जोक्स, कांग्रेस धारा 370
राहुल ने किया स्वागत, पर पार्टी कर रही है विरोध...

(Congress will get ‘special party status’…. Satire)

By Jayjeet

हिंदी सटायर डेस्क, नई दिल्ली। धारा 370 पर कांग्रेस के रुख के मद्देनजर सरकार ने उसे विशेष पार्टी का दर्जा देने का फैसला किया है, ताकि पार्टी को बचाकर लोकतंत्र को भी बचाया जा सके। हालांकि कांग्रेस ने सरकार के इस फैसले का पूरजोर विरोध करते हुए कहा है कि उसे कोई भी तानाशाहीपूर्वक लिया गया निर्णय स्वीकार नहीं है। जनता दल यू ने भी इसका विरोध करने निश्चय किया है।

केंद्रीय कानून मंत्री हरिशंकर प्रसाद ने कहा, ‘हम पर लोकतंत्र के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगता रहा है। लेकिन हम बताना चाहते हैं कि हमारा लोकतंत्र में पूरा विश्वास है। चूंकि लोकतंत्र में विपक्ष की भी अहम भूमिका होती है। इसके मद्देनजर ही हम कांग्रेस पार्टी को विशेष पार्टी का दर्जा देने जा रहे हैं। भले ही कांग्रेसी खुद कांग्रेस को खत्म करने के हरसंभव प्रयास कर लें, लेकिन कांग्रेस को संरक्षित करना हमारा दृढ़ संकल्प है।’

कानून में क्या होगा?

कांग्रेस को बचाने के लिए सरकार ‘कांग्रेस विशेष पार्टी दर्जा बिल 2019’ जल्दी ही राज्यसभा में पेश करेगी। इसके तहत देश की 44 लोकसभा सीटें कांग्रेस के लिए आरक्षित की जाएंगी। वहां कांग्रेसी ही कांग्रेसी के खिलाफ चुनाव लड़ सकेगा। इस तरह यह सुनिश्चित हो सकेगा कि संसद में कांग्रेस की न्यूनतम 44 सीटें तो हमेशा रहें ही। इसके अलावा सभी प्रमुख राज्यों की विधानसभाओं में भी कुछ सीटें आरक्षित की जाएंगी।

कांग्रेस विरोध करेगी, जद यू भी खिलाफ :

कांग्रेस ने इस विधेयक को लेकर सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए इसका विरोध करने का निश्चय किया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि सरकार यह कानून इसलिए बनाना चाहती है ताकि देश में कांग्रेस बची रहे और मोदी सरकार उसे गालियां दे-देकर सालों-साल सत्ता में आती रहे। हम ऐसा हरगिज नहीं होने देंगे। हालांकि रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस के इस आरोप को सिरे से ही खारिज करते हुए कहा कि अगर हमारी गलत मंशा होती तो हम ‘राहुल गांधी स्थाई कांग्रेस अध्यक्ष बिल’ लाते। लेकिन हमारा लोकतंत्र में पूर्ण विश्वास है और हम हर काम लोकतंत्र को मजबूत करने के मकसद से ही कर रहे हैं।

इस बीच, जनता दल यू ने इस प्रस्तावित बिल का विरोध करने का निश्चय किया है। इसकी वजह पूछने पर जद यू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कहा, हर चीज की वजह होना जरूरी नहीं है। बस इतना समझ लीजिए कि यह विधेयक मोदी सरकार ला रही है। अगर इसे नीतीश जी लाते तो हम इसका पूरा समर्थन करते।

(Disclaimer : यह खबर भयंकर कपोल-कल्पित है। इसका मकसद केवल राजनीतिक कटाक्ष करना है, किसी की मानहानि करना नहीं।)

—————————————————————

Google Translation (with small modification)

Breaking News: Congress will get ‘special party status’, government will bring law

New Delhi. In view of Congress’s stand on Article 370, the government has decided to give it special party status, so that democracy can be saved by saving the party.

Union Law Minister Harishankar Prasad said, “We have been accused of playing with democracy.” But we want to say that we have full faith in democracy. Since opposition also has an important role in democracy. In view of this, we are going to give special party status to the Congress party. Even though the Congressmen themselves make every effort to abolish the Congress, it is our determination to preserve the Congress. ‘

What will happen in law?

To save the Congress, the government will soon introduce the Congress Special Party Status Bill 2019 in the Rajya Sabha. Under this, 44 Lok Sabha seats of the country will be reserved for the Congress. The Congress will be able to contest against the Congress there. In this way, it will be ensured that there will always be a minimum of 44 Congress seats in Parliament. Apart from this, some seats will also be reserved in the legislatures of all the major states.

Congress will protest, JD U also against:

The Congress has decided to oppose the bill by questioning the government’s intention. Senior Congress leader Ghulam Nabi Azad said that the government wants to enact this law so that the Congress remains in the country and the Modi government abuses it and keeps coming to power for years. We will not allow this to happen. However, Ravi Shankar Prasad rejected the Congress’s charge and said that if we had the wrong intention, we would have brought ‘Rahul Gandhi Permanent Congress President Bill’. But we have full faith in democracy and we are doing everything for the purpose of strengthening democracy.