पेट्रोल-डीजल के दामों में बेतहाशा बढ़ोतरी : क्यों कांग्रेस ने बीजेपी से मांगा सपोर्ट?

fuel-price-hike , jokes on congress, jokes on bjp, jokes on rahul gandhi, राहुल पर जोक्स, कांग्रेस पर जोक्स, बीजेपी पर जोक्स, पेट्रोल के दाम आसमान पर, political satire

(fuel-price-hike) हिंदी सटायर डेस्क। पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ते दामों का विरोध करने के लिए कांग्रेस ने बीजेपी से मदद मांगी है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को चिठ्ठी लिखकर कुछ प्रदर्शन उन्हें आउटसोर्स करने का आग्रह किया है।

देश इस समय पेट्रोल के बढ़ते दामों से परेशान हो रहा है। इसी मुद्दे पर सोमवार को कांग्रेस के सीनियर लीडर्स ने एक बैठक में चर्चा की। इस बैठक में राहुल ने अपने सलाहकारों से जानना चाहा कि हम पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों का विरोध कब करेंगे? इस पर उन्हें बताया गया कि इस समय तो कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ता कर्नाटक में जेडीएस के साथ सरकार बनाने को लेकर जश्न में डूबे हुए हैं। एक सीनियर कांग्रेसी नेता ने राहुल को समझाया, “पिछले तीन-चार साल से कांग्रेसी कार्यकर्ता दूसरों को मोतीचूर के लड्डू खाते देखते आ रहे हैं। अब लंबे अरसे बाद हमारे कार्यकर्ताओं को भी ये लड्डू नसीब हुए हैं। जश्न का मौका बार-बार नहीं मिलता। इसलिए इस समय हमें अपने कार्यकर्ताओं को पेट्रोल-डीजल जैसी छोटी चीजों को लेकर डिस्टर्ब नहीं करना चाहिए। फिर इस समय गर्मी भी इत्ती चल रही है कि जोश में कुछ कार्यकर्ता निपट गए तो ढूंढने पर भी नहीं मिलेंगे।”

लेकिन राहुल ने कहा कि इतने महत्वपूर्ण मुद्दे की हम अनदेखी कैसे कर सकते हैं? हमें कोई तो रास्ता निकालना चाहिए। इस पर उनके एक अन्य सलाहकार ने कहा कि इस काम में हमें बीजेपी की मदद लेनी चाहिए। तिल का ताड़ बनाने में वे एक्सपर्ट हैं। जब हमारी सरकार के समय पेट्रोल के दाम आसमान पर पहुंचे थे तो उस समय बीजेपियों ने ही खूब हल्ला-गुल्ला किया था। इस पर राहुल ने अमित शाह को एक लिखने का निर्णय लिया।

राहुल ने खुद लिखा पत्र, स्कूल का अनुभव काम आया :

प्रति

श्री अमित शाह
गुजरात

विषय : पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शनों की आउटसोर्सिंग बाबत

महोदय,
जैसा कि आपको विदित ही होगा कि इस समय देश में दो घटनाएं बड़ी तेजी से घटित हुई हैं। एक, पेट्रोल के दामों में अभूतपूर्व बढ़ोतरी और दूसरी,कर्नाटक में कांग्रेस-जनता दल की सरकार। हम इस समय सरकार बनाने में व्यस्त हैं, लेकिन पेट्रोल जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे की भी अनदेखी नहीं कर सकते। ऐसे में आपसे नम्र निवेदन है कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ हमारे लिए कुछ प्रदर्शन आउटसोर्स करने का कष्ट करें।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ आप जो भी प्रदर्शन या विरोध करेंगे, उसे हमारा नैतिक समर्थन रहेगा। अगर वक्त मिला और मौसम ठीक रहा तो हम कांग्रेसी भी रात्रि के समय एक-दो कैंडल मार्च निकालने का प्रयास जरूर करेंगे।

आपका ही प्रिय
राहुल

(Disclaimer : यह खबर कपोल-कल्पित है। इसका मकसद केवल राजनीतिक व्यंग्य करना है, किसी की मानहानि करना नहीं।)