Exclusive : सोनिया और पवार के बीच सरकार के गठन के अलावा क्या चर्चा हुई?

sharad-pawar , sharad-pawar-sonia-gandhi-meeting, शरद पवार सोनिया गांधी, महाराष्ट्र में कैसे बनेगी सरकार, government in maharastra, political satire, राजनीतिक व्यंग्य कटाक्ष

By Jayjeet

हिंदी सटायर डेस्क, नई दिल्ली। शरद पवार की सोमवार को नई दिल्ली में सोनिया गांधी के साथ हुई मुलाकात में महाराष्ट्र में सरकार के गठन को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई। ऐसा दावा खुद शरद पवार ने किया। शुरू में इस दावे पर किसी को भरोसा नहीं हुआ, लेकिन जब बातचीत का एक Exclusive वीडियो सामने आया तो सबको विश्वास करना ही पड़ा। देखिए, दोनों क्या बातचीत कर रहे हैं :

पवार : सोनिया जी नमस्कार।
सोनिया : आइए, पवार साहब, बहुत दिनों बाद आना हुआ। घर में सब मजे में हैं?
पवार : हां, सब बढ़िया चाल रहा है। वो अपना बउवा नहीं दिख रहा।
सोनिया : बउवा मतलब बाबा?
पवार : हां, बाबा ही। इत्ता सा देखा था (पवार साहब ने हाथ से करीब दो फीट की ऊंचाई तक का पोश्चर बनाया )। अब तो बड़ा हो गया होगा!!
सोनिया : हां, बड़ा ही नहीं, घणा समझदार भी हो गया है।
पवार : समझदार हो गया? तो फिर शादी-वादी का क्या इरादा है?
सोनिया : अभी कहां…
पवार : देखिए, समझदार होते ही लड़के को खूंटे से बांध दो तो कंट्रोल में रहता है।
सोनिया : हां, कंट्रोल तो जरूरी है। अभी पता नहीं, किसको चोर-चोर बोल दिया था तो कोर्ट ने बुला लिया था… माफी मांगनी पड़ी…। मैं तो घबराज गई थी।
पवार : कोर्ट? तौबा-तौबा… कोर्ट-कचहरी-ईडी के झंझट से मोदी, आई मीन भगवान ही बचाए….
सोनिया : हां, इसीलिए मैं झंझट ही नहीं रखती। न किसी को कुछ बोलना, न किसी की सुनना। अपने में मस्त रहना।
पवार : सही है। अच्छा मैं चलता हूं। कभी हमारे महाराष्ट्र भी पधारिए। वहां अब भी आपके कुछ कार्यकर्ता हैं, मिलकर उन्हें अच्छा लगेगा…
सोनिया : जी जरूर!! हां, ये कुछ चॉकलेट तो लेते जाइए। बाबा बैंकाक से लाया था।
पवार : अब मैं तो खाता नहीं हूं, पर ले जाता हूं। शिवसेना वालों को दे दूंगा। कुछ तो मिले बेचारों को…

(Disclaimer : बताने की जरूरत नहीं है कि यह कपोल-कल्पित है…. )